पाकिस्तान में सिख श्रद्धालुओं को दिया जा रहा है पूरा मान-सम्मान- पाकिस्तान के डिप्टी हाई कमीश्रर

लुधियाना : भारत में पाकिस्तान के डिप्टी हाई कमीश्रर सैय्यद हैदर शाह ने आज लुधियाना में कहा कि दोनों देशों के मध्य बातचीत द्वारा ही सभी मामले हल हो सकते है। सैय्यद हैदर शाह आज लुधियाना में एक विख्यात महिला कालेज के वार्षिक कनवोकेशन में हिस्सा लेने के पश्चात मीडिया से रूबरू हो रहे थे। उन्होंने कहा कि पाकिस्तान के धार्मिक स्थलों पर माथा टेकने गए भारतीय सिख श्रद्धालुओं को पूरे प्रोटोकाल के तहत मान-सम्मान दिया जा रहा है। फिर भी अगर कोई समस्या आ रही है तो दोनों मुल्कों के अधिकारी उसे बातचीत द्वारा हल कर सकते है। उन्होंने जोर देकर कहा कि भारत-पाक को अपने रिश्ते सुधारने चाहिए। दोनों देशों के बीच जो भी मसले हैं, वे बातचीत द्वारा हल हो जाएंगे। श्री गुरू नानक देव जी के 550वां साल पर पाकिस्तान में आयोजन को लेकर उन्होंने कहा कि दोनों तरफ की सिख बिरादरी के साथ उनकी संबंधित अथॉरिटी बात करके काम कर रही हैं और उम्मीद करते हैं कि बढिया आयोजन होगा।पाकिस्तान के डिप्टी हाई कमिश्नर सय्यद हैदर शाह ने आज मंगलवार को गुरु नानक खालसा कॉलेज फॉर वूमेन गुज्जरखा कैंपस में आयोजित वार्षिक दीक्षात समारोह में बतौर मुख्यातिथि शिकरत करने पहुंचे थे। उन्होंने यह भी कहा कि दोनों देशों की आवाम अमन चाहती है। बातचीत बंद कर देना किसी भी समस्या का हल नहीं है। पत्रकारों से बातचीत से पहले सैय्यद हैदर शाह का कालेज प्रबंधकों , अध्यापिकाओं और छात्राओं द्वारा गर्मजोशी से स्वागत किया गया।इस दौरान उन्होंने महिला शिक्षा पर जोर देते हुए कहा कि वह स्वयं एजूकेशन के सिलसिले में यहां पहुंचकर सम्मानित महसूस कर रहे है। उन्होंने उपस्थित सभी लोगों को मुबारकबाद भी दी। इस दौरान उन्होंने कॉलेज के सरदार संत सिंह गुजरखानी ऑडिटोरियम में बीए, बीए ऑनर्स, बीकॉम, बीकॉम ऑनर्स, एमए, पीजीडीसीए व पीजीडीएम की 415 छात्राओं को डिग्री प्रदान की। जबकि 19 छात्राओं को रोल ऑफ ऑनर्स, चौदह छात्राओं को कॉलेज कलर व 17 छात्राओं को मैरिट सर्टिफिकेट देकर सम्मानित किया।वहीं क्लास में पहले, दूसरे व तीसरे स्थान पर रही 72 यूनिवर्सिटी टापर्स को ट्राफी देकर नवाजा। दीक्षात समारोह में बतौर मुख्यातिथि शिरकत करने पहुंचे सय्यद हैदर शाह ने बच्चों की पढ़ाई, करियर तथा भविष्य संबंधी भी अपने विचार सांझा किए। कॉलेज की प्रिंसिपल ने विद्यार्थियों तथा उनके अभिभावकों व टीचर्स को बधाई दी तथा भविष्य के लिए शुभकामनाएं दी। मेधावी विद्यार्थियों की तारीफ करते हुए उन्होंने कहा कि बाकी बच्चों को भी पढ़ाई में क ड़ी मेहनत करनी चाहिए।– सुनीलराय कामरेडअन्य विशेष खबरों के लिए पढ़िये पंजाब केसरी की अन्य रिपोर्ट। ..

(साभार :  संवाददाता  / एजेन्सी / अन्य न्यूज़ पोर्टल )

ताजा खबरों के अपडेट लगातार पाने के लिए हमारा फेसबुक पेज लाइक करें| आप हमें ट्वीटर पर भी फॉलो कर सकते हैं|

loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

x

Check Also

आसाराम पर फैसले से पहले जोधपुर में सुरक्षा चुस्त

आसाराम दुष्कर्म के एक मामले में आसाराम पर बुधवार को फैसला सुनाए जाने से पहले सोमवार को यहां सुरक्षा चुस्त कर दी गई. राजस्थान हाईकोर्ट ने 17 अप्रैल को जोधपुर की निचली अदालत को जेल परिसर के भीतर

loading...