दक्षिण कोरिया के पूर्व राष्ट्रपति की गिरफ्तारी का वारंट जारी, भ्रष्टाचार का है आरोप

सियोल। दक्षिण कोरिया की अदालत ने गुरुवार को भ्रष्टाचार के आरोपों को लेकर पूर्व राष्ट्रपति ली म्युंग बक की गिरफ्तारी का वारंट जारी किया है। समाचार एजेंसी सिन्हुआ के मुताबिक, सियोल सेंट्रल डिस्ट्रिक्ट कोर्ट ने ली को हिरासत में लेने का फैसला किया है। हालांकि, ली ने सभी आरोपों से इनकार किया है।
दक्षिण कोरिया
अदालत के फैसले के मुताबिक, इन आरोपों को नकारे जाने से सबूतों को नष्ट करने की संभावना बढ़ी है और ली के कई अपराध न्यायोचित ठहरे हैं।
यह भी पढ़ें : राज्यसभा सीटों के लिए मतदान जारी, जानें UP का समीकरण
ली को पिछले सप्ताह पूछताछ के लिए समन किया गया था। सियोल सेंट्रल डिस्ट्रिक्ट के अभियोजक कार्यालय ने सोमवार को घूस, गबन, कर चोरी सहित कई मामलों में उन्हें गिरफ्तार करने के लिए वारंट जारी करने का आग्रह किया था।
हालांकि, ली ने अदालत में पेश होने से इनकार करते हुए कहा था कि वह अभियोजकों के समक्ष पहले ही अपना रुख स्पष्ट कर चुके हैं।
यह भी पढ़ें : रामलीला मैदान में अन्ना हजारे ने भरी हुंकार, मोदी से करेंगे आर-पार
अदालत ने अभियोजकों द्वारा पेश किए गए साक्ष्यों और गवाही के बाद गिरफ्तार करने का आदेश दिया।

..

(साभार :  संवाददाता  / एजेन्सी / अन्य न्यूज़ पोर्टल )

ताजा खबरों के अपडेट लगातार पाने के लिए हमारा फेसबुक पेज लाइक करें| आप हमें ट्वीटर पर भी फॉलो कर सकते हैं|

loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

x

Check Also

अमेरिका ने 5 ईरानियों को काली सूची में डाला

...

loading...