ऐसे मरीजों के लिए जहर है ब्लड बैंक वाला खून, गलती से भी चढ़ाया तो मौत पक्की

नई दिल्ली। अक्सर आपने देखा होगा कि किसी मरीज को ब्लड बैंक से लाकर खून चढ़ाया गया और उस खून ने मरीज की जान ले ली। ऐसे में सवाल ये उठता है कि आखिर ये हुआ क्यों?
ब्लड बैंक
वैज्ञानिकों की मानें तो इसके लिए हमारा शरीर ही जिम्मेदार होता है। लंबे समय से रखा गया खून आघात के शिकार और ऐसे घायल व्यक्ति के लिए नुकसानदायक हो सकता है, जिसके शरीर से भारी मात्रा में खून बह चुका हो।
ब्लड बैंक का खून बन सकता है घातक!
इस तरह के मरीजों के लिए लंबे समय से रखे हुए पुराने खून का इस्तेमाल बेहद घातक होता है। इससे उनके रक्त संचार में शिथिलता आती है। साथ ही यह गंभीर रूप से प्रभावित अंगों में सूजन बढ़ाने के साथ फेफड़ों के संक्रमण को भी बढ़ा सकता है।
यह भी पढ़ें: खट्टी-मीठी स्ट्रॉबेरी खाने से पहले जान लो उसके जहरीले नुकसान,कहीं…
शोधकर्ताओं ने मरीजों के शरीर में पुराने संग्रहित लाल रक्त की कोशिकाओं के संचरण और बाद के बैक्टीरियल निमोनिया के बीच संबंध पाया है।
रिपोर्ट में कहा गया है कि ताजा खून की तुलना में, संग्रहित खून को इस्तेमाल करने से बैक्टीरिया की वजह से होने वाले फेफड़ों के संक्रमण में काफी वृद्धि देखी गई। यह अध्ययन एक स्वास्थ्य पत्रिका पीएलओएस मेडिसिन में प्रकाशित हुआ है।

..

(साभार :  संवाददाता  / एजेन्सी / अन्य न्यूज़ पोर्टल )

ताजा खबरों के अपडेट लगातार पाने के लिए हमारा फेसबुक पेज लाइक करें| आप हमें ट्वीटर पर भी फॉलो कर सकते हैं|

loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

x

Check Also

अगर आप में भी है ये आदत तो कभी पास नहीं आएगा डिप्रेशन

न्यूयॉर्क:  अगर आप सुबह जल्दी उठते हैं तो आपमें अवसाद की संभावना काफी कम हो जाती है। कोलोराडो-बोल्डर विश्वविद्यालय के निदेशक व प्रमुख लेखक सेलिन वेटर ने कहा है, “सुबह जल्दी उठना फायदेमंद होता है और आप जल्दी उठकर इसका असर देख सकते हैं।”  अवसाद की संभावनाloading...