अंडर 19 में शानदार प्रदर्शन के बाद अब मनजोत की नजरें आईपीएल पर

मनजोत कालरा को अब किसी परिचय की जरूरत नहीं. अंडर 19 विश्व कप के मैन ऑफ द टूर्नामेंट मनजोत ने फाइनल में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ शानदार शतक (नाबाद 101) लगाकर भारत को रिकॉर्ड चौथी बार खिताब दिलाया था. फाइनल में खेली गई अपनी पारी को लेकर मनजोत ने कहा कि उनका लक्ष्य अंत तक टिके रहकर टीम को जीत दिलाना था.मनजोत के इस शतक ने उन्हें भारत में हीरो बना दिया, लेकिन मनजोत के लिए यह आसान नहीं था. उनका कहना है कि जब टीम ने पृथ्वी शॉ और शुभनम गिल के विकेट खो दिए तो उन्होंने पूरी जिम्मेदारी अपने ऊपर ले ली और तय कर लिया था कि वह अंत तक खड़े होकर टीम को जीत दिलाएंगे.मनजोत इस काम में सफल भी हुए और भारत की झोली में खिताब भी आया. इसके बाद मनजोत रातों-रात स्टार बन गए. सोमवार को दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने मनजोत को पूरे परिवार सहित सम्मानित किया.फाइनल को लेकर क्या थे मनोजात के प्लानमनजोत ने आईएएनएस को दिए गए साक्षात्कार में कहा कि उन्होंने हालांकि फाइनल के लिए कुछ रणनीति नहीं बनाई थी और वह सिर्फ अपना स्वाभाविक खेल खेलना चाहते थे.फाइनल में जाने से पहले उन्होंने कैसी तैयारी की और उनके दिमाग में क्या चल रहा था, इस सम्बंध में पूछे जाने पर मनजोत ने कहा, “मैंने कोई विशेष रणनीति नहीं बनाई थी. मेरा ध्यान सिर्फ गेंद को उसकी मेरिट के हिसाब से खेलने पर था. बस मैं अंत तक खेलने के बारे में सोच रहा था. पृथ्वी और शुभमन के विकेट जब गिर गए तो मैंने सारी जिम्मेदारी अपने ऊपर ले ली और तय कर लिया कि मैं अंत तक खड़ा रहूंगा.”फाइनल में जीत के लिए मनजोत ने अपनी टीम के गेंदबाजों को भी श्रेय दिया. उन्होंने कहा, “हमारे गेंदबाजों ने ऑस्ट्रेलिया जैसी टीम को कम स्कोर पर रोक दिया. ऑस्ट्रेलिया, सभी जानते हैं कि मजबूत टीम है और फाइनल में वह और खतरनाक हो जाते हैं, लेकिन हमारे गेंदबाजों ने उन्हें बड़ा स्कोर नहीं बनाने दिया.”आईपीएल के लिए बनाई योजनाअंडर 19 विश्व कप में शानदार प्रदर्शन के बाद मनजोत अब आईपीएल में जलवा दिखाते दिखेंगे. उन्हें दिल्ली डेयरडेविल्स ने 20 लाख रुपये में अपने साथ जोड़ा. मनजोत ने कहा कि आईपीएल में खेलने से उनका खेल और निखरेगा क्योंकि इस टूर्नामेंट में विश्व के कई दिग्गज खेलते हैं.बकौल मनजोत, “मैंने आईपीएल की तैयारी शुरू कर दी है. यहां खेलने से मेरा खेल और बेहतर होगा क्योंकि इस टूर्नामेंट में कई बड़े सितारे खेलते हैं. हमारी टीम मेंही कागिसो रबादा हैं. मैं जब उनको खेलूंगा तो बहुत कुछ सीखूंगा. इसी तरह बाकी टीमों में भी कई और बड़े सितारे हैं जिनके सामने खेलने से मेरा खेल बेहतर ही होगा.”अंडर 19 के बाद अब टीम इंडिया पर नजरक्रिकेट खेलने वाले सभी खिलाड़ियों की तरह दिल्ली के रहने वाले मनजोत का सपना भी भारतीय टीम की नीली जर्सी पहनना है, मनजोत भी इसी सपने के लिए रात-दिन एक करने को तैयार हैं. मनजोत ने कहा, “मेरा काम है अच्छा करना और मौका मिले तो उसको भुनाना. सबका लक्ष्य होता है वो ‘ब्लू जर्सी’ पहनना, सीनियर टीम में खेलना. मुझे जब भी मौका मिलेगा तो मैं अपना काम करूंगा. मैं इसके लिए कड़ी से कड़ी मेहनत कर रहा हूं.’भारत के इन युवाओं को विश्व विजेता बनाने में टीम के कोच और पूर्व कप्तान राहुल द्रविड़ का बहुत बड़ा हाथ रहा है। मनजोत से जब पूछा गया कि फाइनल से पहले कोच ने टीम से क्या कहा था तो उन्होंने कहा, “राहुल सर ने यही कहा था कि अपने ऊपर दबाव नहीं लेना है और बाकी मैचों की तरह की इसे खेलना है. बिना किसी दबाव के.”

– – – – – – – – – Advertisement- – – – – – – – –

..

(साभार :  संवाददाता  / एजेन्सी / अन्य न्यूज़ पोर्टल )

ताजा खबरों के अपडेट लगातार पाने के लिए हमारा फेसबुक पेज लाइक करें| आप हमें ट्वीटर पर भी फॉलो कर सकते हैं|

About Digital Team Charcha Aaj Ki

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

x

Check Also

BLOG: विराट कोहली के लिए क्या है टी-20 सीरीज में जीत का फॉर्मूला

सेंचुरियन में मेजबान दक्षिण अफ्रीका ने दूसरा टी-20 मैच जीत लिया. दक्षिण अफ्रीका ने इस ...