आईपीएल : एक बार फिर शेन वार्न की हुई राजस्थान रॉयल्स में एंट्री, करेंगे सबसे जिम्मेदारी वाला काम

जयपुर। राजस्थान रॉयल्स को साल 2008 में इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के पहले संस्करण का खिताब दिलाने वाले आस्ट्रेलियाई दिग्गज शेन वार्न एक बार फिर इस टीम के साथ जुड़ गए हैं। विश्व क्रिकेट के दूसरे सबसे सफल टेस्ट गेंदबाज और राजस्थान रॉयल्स के पूर्व कप्तान और कोच वार्न को लीग के 11वें संस्करण के लिए फ्रेंचाइजी का मेंटॉर बनाया गया है।
शेन वार्न
स्पॉट फिक्सिंग के कारण दो साल का प्रतिबंध झेलने के बाद यह पूर्व चैम्पियन क्लब इस साल लीग में वापसी कर रहा है।
वार्न ने स्वीकार किया है कि जयपुर फ्रेंचाइजी हमेशा से उनके दिल के करीब रहा है।
यह भी पढ़ें :-सितारों को गढ़ने वाला कलाई का जादूगर, जिसके शतक का मतलब होता था भारत अजेय
वार्न ने कहा, “राजस्थान रॉयल्स में वापसी करके मैं बेहद खुश हूं। मैं मानता हूं कि इस टीम का मेरे क्रिकेट करियर में एक अहम स्थान रहा है। मैं फ्रेंचाइजी द्वारा अपने प्रति जताए गए प्यार और विश्वास का कायल हो गया हूं। मैं इसके लिए फ्रेंचाइजी के प्रशंसकों का शुक्रगुजार हूं।”
वार्न ने कहा, “हमारे पास मजबूत, युवा और उत्साही खिलाड़ियों का समूह है और मैं इनके साथ काम करने को तैयार हूं।”
यह भी पढ़ें :-दृष्टिबाधित शतरंज चैंपियनशिप में अपना पांचवां राष्ट्रीय खिताब जीत गांगोली ने रचा इतिहास
वार्न राजस्थान के साथ 2008 से 2011 तक खेले है। इस दौरान उन्होंने 52 मैचों में टीम के लिए 56 विकेट लिए हैं।
राजस्थान ने मुम्बई के बल्लेबाज जुबिन बारुचा को इस साल अपना क्रिकेट प्रमुख नियुक्त किया है। वह 2008 में भी क्लब के साथ जुड़े थे।
बारुचा ने कहा, “राजस्थान रॉयल्स में हमेशा हमारी कोशिश युवा प्रतिभाओं को निखारने की होती थी। इस बार भी हम यही करेंगे।”

..

(साभार :  संवाददाता  / एजेन्सी / अन्य न्यूज़ पोर्टल )

ताजा खबरों के अपडेट लगातार पाने के लिए हमारा फेसबुक पेज लाइक करें| आप हमें ट्वीटर पर भी फॉलो कर सकते हैं|

About Digital Team Charcha Aaj Ki

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

x

Check Also

BLOG: विराट कोहली के लिए क्या है टी-20 सीरीज में जीत का फॉर्मूला

सेंचुरियन में मेजबान दक्षिण अफ्रीका ने दूसरा टी-20 मैच जीत लिया. दक्षिण अफ्रीका ने इस ...